बनोगी उसकी ही कठपुतली

माथे ऊपर हाथ वो धरकर बैठी पत्थर सी होकर जीवन अब ये कैसे चलेगा चले गए जब पिया छोड़कर .......................................... बापू न...